iui-success-tips-in-hindi

IUI Success Tips in Hindi: कैसे बढ़ाएँ गर्भधारण करने की सभावना?

IUI treatment के द्वारा गर्भधारण की संभावना को बढ़ाने के लिए आप इन IUI success tips in hindi को ध्यान में रखें :

1. तीन दिन तक पुरुष को अपने सीमन पर नियंत्रण रखना चाहिए

IUI treatment से 3 दिन पहले अपने सीमन का स्त्राव नहीं करना चाहिए । नियंत्रण रखने से सीमन की मात्रा अधिक मिलेंगी और उसमे शुक्राणुओं की संख्या  भी अच्छी मिलेगी।

पांच दिन से ज़्यादा नियंत्रण न रखें क्यूंकि इससे भी सीमन की मात्रा पर असर पड़ता है।  

2. IUI treatment को चिंता का विषय न बनाएँ

तनाव आपके गर्भधारण करने की संभावना  को कम करता है।

“IUI treatment के लिए आपको हॉस्पिटल में बार – बार  आना पड़ेगा” डॉक्टर प्रीति कहती है ।

अपने व्यस्त दिन में बाधा न डाले, अपने डॉक्टर से सुबह की अपॉइंटमेंट ले।

3. जीवन -शैली में परिवर्तन लाएँ

प्रजनन-शक्ति बढ़ाने वाले आहार खाएँ

“अपनी डाइट में प्रजनन-शक्ति बढ़ाने वाले पोषक तत्त्व जैसे anti-oxidants, fiber, dairy और protein को शामिल करें” डॉक्टर प्रीति बताती है।

बहार के खाना और मीठे से बचें।

नियमित रूप से व्यायाम करें

अगर आपने पहले कभी व्यायाम न करा हो तो 15 मिनट की सेर से शुरू करें।  धीरे – धीरे इससे 45 मिनट की सेर तक बढ़ाएँ।

यह परिवर्तन एक अच्छी और स्वस्त प्रेगनेंसी के लिए अनिवार्य है।

निशुल्क परामर्श: क्या आप IUI के बारे में और जानना चाहते है? डॉ प्रीति (इनफर्टिलिटी स्पेशलिस्ट) से एक निशुल्क परामर्श के के द्वारा मिले- बस नीचे दिए गए फॉर्म को भरे –

4. अपने डॉक्टर से हॉर्मोनल सपोर्ट के बारे में जाने

जब आपको ट्रिगर शॉट्स के लिए सुझाव दिया जायेगा तो बात करे हॉर्मोनल सपोर्ट के बारे में।

हॉर्मोनल सपोर्ट आपके गर्भधारण की संभावना को बढ़ाने में सहायक है खास तोर पर अगर आपको PCOD या Endometriosis हैं ।

5. पुनः विचार करे तीन IUI कोशिशों के बाद

वैसे तो IUI treatment की प्रत्येक कोशिश के बाद गर्भधारण की संभावना बढ़ जाती है।

3  IUI के उपरांत गर्भधारण की सभावना उच्चतम रहती है।  

इसलिए तीन IUI treatment के कोशिशों के बाद भी अगर गर्भधारण में सफल नहीं है तो रुकें और सोचें ।

आपके डॉक्टर और जांचो के लिए सुझाव दे सकते है जिससे यह निर्धारित होगा की आपको सफलता IUI से ही मिलेगी या IVF से।

Liked this post? Rate it now:

START TYPING AND PRESS ENTER TO SEARCH